plus Poem on Teachers Farewell in Hindi-विदाई समारोह ~ NR SECRET DIARY

Poem on Teachers Farewell in Hindi-विदाई समारोह

Poem on Teachers Farewell in Hindi

एक दिव्य प्रकाश✨ का दिव्य हाथो हुआ पदार्पण है
ज्योत से ज्योत सजी सजा विद्यालय का प्रागण है
झिलमिल सितारे ⭐सारे करते आपको वंदन है
ज्ञान की अलख📝 जगाने वालो को मेरा सत सत अभिनंदन है ।

ज्ञान का समावेश📚 होता जिस भव्य मंदिर में
शिक्षा का होता जहा आदान प्रदान है
लाखो पीढ़िया शिक्षित होती
एक भव्य समाज का होता ऐसे निर्माण है ।👨‍👨‍👧‍👦

हम तो कोरे कागज़ थे✉, किनारा आपने दिखाया
हर एक फूल को पल्वित🍭 आपने बनाया
यह सिर्फ पाठशाला ही🏫 नही शिक्षा का मंदिर है
यहा हर एक फूल का अपना अलग ही अस्तित्व है ।

आज भी याद आती है वो क्लासरूम की बाते
वो वक़्त जिसमे हमे आप जैसे गुरु का सानिध्य प्राप्त हुआ
हर दिन कुछ नया सीखा, नीव यही से पड़ी थी
एक बंजर भूमि को उपजाऊ आपने ही तो बनाया था ।
Previous
Next Post »

No comments:

Post a Comment